News
श्रमजीवी पत्रकारों एवं प्रकाशकों का सशक्त संगठन.                                                                              MOST POWERFUL ORGANISATION FOR EDITORS AND JOURNALISTS.                                                                              श्रमजीवी पत्रकारों एवं प्रकाशकों का सशक्त संगठन.                                                                                          MOST POWERFUL ORGANISATION FOR EDITORS AND JOURNALISTS.                                                                             श्रमजीवी पत्रकारों एवं प्रकाशकों का सशक्त संगठन.                                                                              MOST POWERFUL ORGANISATION FOR EDITORS AND JOURNALISTS.

"INDIAN MEDIA TRUST" is a Non-profit and Non-governmental organization, founded by Dr. Rajesh Dixit in 2012. The Trust registered under the Indian Trust Act 1860 and Registration No. is 3681, New Delhi. Indian Media Trust is established to unite dedicated editors and journalists at one powerful platform and it will function from all over India.

Rajesh Dixit
Chairman

Indian Media Trust is a non-profit orgnisation, working for the protection of journalists and media professionals for their rights of freedom. Indian Media Trust protects journalists in all sectors of media industry. Our Trust mainly focuses on the development and protection of press and media professionals.

Manju Johri
National President

जब तक लघु एवं मध्यम संघर्षरत समाचार पत्रों को महत्त्व नहीं दिया जायेगा तब तक हमारा संगठन उनके अस्तित्व को बचाने के लिए संघर्ष रहेगा l समाज में व्याप्त भ्रष्टाचार को मिटने के लिए हमारा संगठन हमेशा संघर्ष करता रहेगा l इंडियन मीडिया ट्रस्ट एक गैर सरकारी संगठन है, जिसका मुख्य उद्देश्य प्रकाशकों एवं संघर्षशील पत्रकारों को एक मंच पर एकत्रित एवं एकजुट कर एक शक्तिशाली संगठन का रूप देना है l

Madan Mohan Tuteja
Vice President

भारत प्राचीन काल से ही देव भूमि रहा है l समस्त विश्व ने हमारे देश को आध्यात्मिक गुरु की दृश्टि से देखा है l परन्तु आज उसी देश में देवों के स्थान पर आसुरी वृतियाँ चरम सीमा पर हैं एवं नारी का शोषण हो रहा है l बच्चे भी असुरक्षित हैं l आर्थिक लाभ की खातिर नैतिकता लुप्त होती जा रही है l ऐसे समय में मीडिया चौथा स्तम्भ बहुत ही अहम् भूमिका निभा सकता है l इन आसुरी वृतियों को रोकने तथा भारत को पुनः विश्व में आध्यात्मिक गुरु बनाने में इंडियन मीडिया ट्रस्ट अतुलनीय भूमिका निभा सकता है l आवश्यकता है तो एक कदम उठाने की l इसी उद्देश्य की पूर्ति हेतु इंडियन मीडिया ट्रस्ट का गठन किया गया है l

Shikha Bajpai
Secretary General

वर्तमान समय में कुछ भ्रष्ट राजनीतिज्ञ एवं कुछ भ्रष्ट नौकरशाहों द्वारा मीडिया की आवाज़ को दबाने का लगातार प्रयास किया जा रहा है l लेकिन हमारा संगठन उन सभी भ्रष्ट नौकरशाहों एवं कर्मचारियों के खिलाफ अपनी आवाज़ बुलंद करता रहेगा l

Yatendra Johri
Treasurer

Building independent media in developing countries like India, requires more than freedom of speech, skilled journalists, or strong business management skills. Enabling independent media to perform the crucial role of being a watchdog over the government and educating people about the issues that affect their lives also, requires supporting organizations such as trade unions and professional associations for journalists and a public, which is well educated about these roles and responsibilities of media and their function in a democratic and open society. Safety of working journalists, the interests and work of Indian Media Trust, was formed as a strong organisation.

Shobha Prabhat
Secretary - Uttarakhand

वर्तमान समय में भारतीय नारियों का दर्ज़ा जो होना चाहिये वो नहीं है l आज भी भारतीय नारी अपने आपको बहुत ही कमज़ोर एवं असुरक्षित महसूस कर रही है l इंडियन मीडिया ट्रस्ट उन समस्त भारतीय नारियों को उनका उचित हक़ और सम्माननीय दर्ज़ा दिलाने में हमेशा संघर्षरत रहेगा l महिलाओं एवं बच्चों के उत्थान के लिए हमारा ट्रस्ट हमेशा प्रयासरत रहेगा l

Sunita Verma
Secretary- UP state

योग व्यक्ति के शरीर, मन, भावना, एवं उर्जा के स्तर पर कार्य करता है। इसे व्यापक रूप से चार वर्गों में विभाजित किया गया है। कर्मयोग, ज्ञानयोग, भक्तियोग, क्रियायोग - कर्मयोग में हम शरीर का प्रयोग करते हैं, ज्ञानयोग में हम मन का प्रयोग करते हैं, भक्तियोग में हम भावना का प्रयोग करते हैं और क्रियायोग में हम उर्जा का प्रयोग करते हैं। योग की हम जिस भी प्रणाली का प्रयोग करते हैं, वह एक दूसरे से मिली होती है। प्रत्येक व्यक्ति इन चारों योगों का एक संयोग है। केवल एक समर्थ गुरू ही योगसाधक को उसके आवश्यकतानुसार योग सिद्धान्तों का संयोजन करा सकता है। योग समर्थ गुरू के मार्गदर्शन में अभ्यास करना अति आवश्यक है।

Dharmendra Kumar
President - UP State

नारी तत्व की प्रधानता पुरूष से अधिक मानी जाती है। नारी अपने आप में एक चेतना का प्रतीक है। नारी को साक्षात देवी का रूप माना जाता है। हमारे देश की नारियों ने, पत्रकारिता जगत में ही नहीं बलिक सभी क्षेत्रों मे अपने अथक प्रयासों से एवं कार्यों से सम्मान हासिल किया है। भारत सरकार ने महिला सुरक्षा के प्रति कई सशक्त कदम उठाये है। किन्तु आज भी देश में काफी संख्या में महिलायें उनके अधिकारों के बारे में अधिक जानकारी न होने के कारण शोषित होती हैं।

Preetu
Media Executive - UP State

आज हमारे देश में भ्रष्टाचार एक सबसे बड़ी समस्या है। वर्तमान समय मे राजनीतिक एवं प्रशासनिक गठजोड़ ही भ्रष्टाचार में वृद्धि के लिये सबसे ज्यादा उत्तरदायी है। यह बीमारी कुछ ज्यादा ही गंभीर होती जा रही है और इसके इलाज की सख्त जरूरत है। जहां तक हमारा मानना है कि मीडिया माध्यम भी इसका एक इलाज है। जो निर्भीक्तापूर्वक अपनी कलम से डटकर सामना कर सकता है।

INDIAN MEDIA ASSOCIATION
JANTA AUR KANOON
SHAM KA AKHBAR
YOG KI DUNIYA

©All right Reserved 2016